नवरात्रे : अगर मिले ये संकेत तो समझ लेना प्रसन्न है माँ लक्ष्मी, इन लक्षणों को पहचान कर जाने माँ की कृपा

नवरात्रि (Navratri 2021) के पावन दिन चल रहे हैं। इन दिनों मां दुर्गा के भक्त उन्हें प्रसन्न करने के लिए उनके नौ अलग-अलग स्वरूपों की अराधना करते हैं।

7 अक्टूबर से शुरू हुए इस त्योहार का समापन 15 अक्टूबर को होगा। नवरात्रि की शुरुआत के पहले दिन लोग अपने घर में कलश स्थापना करते हैं और उस कलश के नीचे जौ बोए जाते हैं। ज्योतिष अनुसार ये जौ हमें हमारे भविष्य के बारे में बताते हैं जानिए कैसे?

ज्योतिष शास्त्र अनुसार नवरात्रि के दौरान बोये गए जौ का भविष्य से गहरा संबंध होता है। अगर जौ तीन दिन में उगने लग जाती है और छह दिन में अच्छी और हरी हो जाती है तो ये शुभ संकेत है।

इसका मतलब है कि आपको धनलाभ होगा और घर परिवार में जिन लोगों का विवाह होने वाला है उनके विवाह में आने वाली सभी दिक्कतें दूर होने लगेंगी।

इसके अलावा ऐसे जौ से इस बात का भी संकेत मिलता है कि घर-परिवार के लोगों का स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। अगर जौ घनी और हरी उगती है तो इसका मतलब है पूरा साल आपका अच्छा बीतेगा।

अगर उगे हुए जौ की जड़ों की शुरुआत में सफेदी दिखाई देती है यानी ये हल्के हरे कलर में बढ़ते दिखाई देते हैं तो इसका मतलब है कि आने वाला नया साल आपके लिए शुरुआत में कष्टकारी रहेगा लेकिन धीरे-धीरे परेशानियां कम होती चली जाएंगी। वहीं अगर सातवें और आठवें दिन जौ उगकर नीचे की ओर झुकने लगती हैं तो इसका मतलब है कि साल की शुरुआत तो अच्छी रहेगी लेकिन साल के अंतिम समय में आपको कष्टों का सामना करना पड़ेगा।

अगर जौ काले रंग टेढ़े-मेढ़े उगते हैं तो ये अच्छा संकेत नहीं है। यदि जौ उग नहीं पाई हैं तो इसका मतलब है कि आपको आने वाले साल में धनहानि होने की आशंका रहेगी। ऐसे में आपको मां दुर्गा की अराधना कर हवन पाठ करवाना चाहिए।

About Admin

Check Also

अगर दीपावली की सफाई में मिलें ये 5 चीजें तो समझ लें बरसने वाली है माँ लक्ष्मी की कृपा

नवरात्र बीतने के बाद लोग दीपावली का इंतजार करने लगते हैं और रौशनी के इस …

Leave a Reply

Your email address will not be published.